CTET Exam Offline OR Online: आए दिन इंटरनेट पर कई असत्यापित खबरें वायरल होती हैं।

CTET Exam Offline OR Online: 

आए दिन इंटरनेट पर कई असत्यापित खबरें वायरल होती हैं। ऐसी ही एक सीटेट परीक्षा से संबन्धित खबर विगत कुछ समय से इंटरनेट पर काफी वायरल हो रही है। इस खबर के अनुसार सीबीएसई द्वारा इस वर्ष केन्द्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा यानि सीटेट परीक्षा ऑफलाइन मोड में आयोजित कराई जाएगी। हालांकि आपको बता दें, यह सूचना बिल्कुल अप्रमाणित है, अब तक सीबीएसई द्वारा इस संबंध में कोई स्पष्टीकरण नहीं दिया गया है। 

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

जानें क्या है मामला 

बता दें, पिछले कुछ समय से इंटरनेट पर विभिन्न असत्यापित स्रोतों द्वारा यह सूचना दी जा रही है, कि इस वर्ष सीटेट परीक्षा ऑफलाइन यानि पेन पेपर मोड में आयोजित कराई जाएगी। परीक्षा के ऑफलाइन मध्याम में आयोजित होने का कारण बताया जा रहा है, कि एनटीए के पास सीटेट परीक्षा के आयोजन के लिए समय नहीं है एवं एनटीए द्वारा मना किए जानें के कारण बोर्ड नें परीक्षा ऑफलाइन माध्यम से आयोजित कराने का निश्चय किया है। 
अभ्यर्थी इस बात पर ध्यान दें, कि यह खबर बिलकुल गलत है एवं एसी कोई भी सूचना बोर्ड द्वारा नहीं दी गई है। बोर्ड की ओर से प्रेषित शॉर्ट नोटिस में यह साफ-साफ बताया गया है, कि परीक्षा कम्प्युटर आधारित माध्यम (CBT) से यानि ऑनलाइन मोड में आयोजित कराई जाएगी। चूंकि बोर्ड नें ऑफलाइन मोड में परीक्षा के आयोजन की कोई सूचना नहीं दी है, अभ्यर्थियों को ऐसी किसी भी खबर से परेशान होने की आवश्यकता नहीं हैं। परीक्षा यथापूर्व ऑनलाइन मोड में ही आयोजित कराई जाएगी। 
बता दें, सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकण्डरी एजुकेशन यानि सीबीएसई द्वारा केन्द्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा (CTET) परीक्षा का 16 संस्करण इस वर्ष दिसम्बर 2022 में आयोजित कराया जानें वाला है। सीटेट की आधिकारिक वेबसाइट ctet.nic.in पर बोर्ड द्वारा इस संबंध में एक शॉर्ट नोटिस जारी किया गया था। परीक्षा का विस्तृत नोटिफिकेशन भी जल्द ही आधिकारिक वेबसाइट पर जारी कर दिया जाएगा।
इसे पढे :-  CTET 2022: केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा के लिए 31 अक्टूबर से करें आवेदन, कैंडिडेट्स के लिए 1000-1200 रुपये होगी फीस

दीवाली बाद शुरू होगी 18527 पदों पर प्राइमरी टीचर्स की भर्ती

ईडब्ल्यूएस कैटेगरी के लिए पासिंग मार्क 50% किए
टीचर एलिजिबिलिटी टेस्ट पास कर चुके उम्मीदवारों के लिए अच्छी खबर है। स्कूल शिक्षा विभाग के 7 हजार 429 और जनजातीय कार्य विभाग के स्कूलों में 11 हजार 98 प्राइमरी टीचर्स के 18 हजार 527 पदों पर एक साथ भर्ती की जाएगी। दीपावली बाद भर्ती शुरू होगी। स्कूल शिक्षा विभाग के दायरे के स्कूलों में और जनजातीय कार्य विभाग यह भर्ती होगी। स्कूल शिक्षा विभाग ने स्कूल शिक्षा के भर्ती नियम-2018 में ईडब्ल्यूएस कैटेगरी के लिए प्राथमिक शिक्षक पात्रता परीक्षा के पासिंग मार्क 60 प्रतिशत से घटाकर 50 प्रतिशत कर दिए गए
उच्च माध्यमिक और माध्यमिक शिक्षकों की भर्ती प्रक्रिया अभी भी जारी
  • 2018 में आयोजित की गई शिक्षक पात्रता परीक्षा में चयनित हुए उच्च माध्यमिक और माध्यमिक शिक्षकों की भर्ती की प्रक्रिया अभी भी जारी है। स्कूल शिक्षा और जनजातीय कार्य विभाग दोनों के स्कूलों में अभी भी करीब 5 हजार से ज्यादा शिक्षक नियुक्ति का इंतजार कर रहे हैं।
  • हैं। जनजातीय कार्य विभाग द्वारा इसमें संशोधन की कार्रवाई अभी जारी है। आयुक्त लोक शिक्षण अभय वर्मा ने बताया कि सभी उम्मीदवारों की ज्वाइंट काउंसलिंग की जाएगी।
  • मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल के नीलम पार्क में प्राथमिक शिक्षक पात्रता परीक्षा पास उम्मीदवारों ने अपना प्रदर्शन शुरू कर दिया है। आसपास के इलाकों के उम्मीदवार एकजुट हो चुके हैं और दूरदराज के इलाकों से उम्मीदवारों का आने का सिलसिला लगातार जारी है।
  • उम्मीदवारों का कहना है कि 2011 से वो शिक्षक भर्ती की तैयारी कर रहे थे। 2018 में शिक्षक भर्ती निकली। पिछले चार साल से शिक्षक भर्ती की प्रक्रिया धीमी गति से चल रही है। सरकार ने 2018 में 62 हजार शिक्षक भर्ती का ऐलान किया था। उसके बाद 30 हजार के लिए एग्जाम ली गई।
  • इसमें भी कुछ विषय ऐसे थे जो नाम मात्र के लिए पद घोषित किए गए। उनकी मांग है कि जो पात्र अभ्यर्थी है उन्हें नियुक्ति पत्र दिए जाए। कई साथी है जो उम्मीद में थे कि स्थायी शिक्षक भर्ती होगी। हम अभी मानसिक तनाव
इसे पढे :-  CTET 2022 Exam Date: आगे बढ़ सकती है परीक्षा की तारीख़ ? कब जारी होगा परीक्षा का विस्तृत नोटिफ़िकेशन? जानें यहाँ

PEB का नाम अब होगा कर्मचारी सिलेक्शन बोर्ड

मप्र सरकार प्रोफेशनल एग्जामिनेशन बोर्ड का नाम बदलकर अब कर्मचारी सिलेक्शन बोर्ड करने जा रही है। इसके लिए आगामी विधानसभा सत्र के दौरान मप्र व्यावसायिक परीक्षा मंडल (संशोधन) विधेयक, 2022 पेश करेगी। यह तीसरा मौका होगा जब पीईबी का नाम बदला जा रहा है। मानसून सत्र के दौरान करीब 15 अनुपूरक बजट भी पेश किया जाएगा। विस सत्र 13 से 17 सितंबर तक आयोजित होगा।
संविदा शिक्षक वर्ग 1 और वर्ग 2 की नियुक्ति प्रोसेस जानिए 4 सितंबर का

मप्र विधानसभा का मानसून सत्र इस बार जुलाई की बजाए सितंबर में होने जा रहा है। पांच दिन के सत्र में पहली बार सदन की कार्यवाही शनिवार को भी होगी। सत्र के दौरान प्रथम अनुपूरक बजट के अलावा मप्र सिविल न्यायालय (संशोधन) विधेयक 2022, मप्र व्यावसायिक परीक्षा मंडल (संशोधन) विधेयक 2022, मप्र निजी विवि (स्थापना एवं संचालन) संशोधन विधेयक, जिसमें कैबिनेट ने निजी क्षेत्र में 7 नए विश्वविद्यालय खोलने की मंजूरी दी है। इसके अलावा बरकतउल्लाह (बीयू) एवं राजा शंकर शाह विश्वविद्यालय के क्षेत्राधिकार के तहत जिलों का बंटवारा किया जाएगा। अभी बीयू के अधीन कई जिले आते थे। साथ ही मप्र नगरपालिका विधि संशोधन, मप्र नगरपालिका विधि द्वितीय संशोधन
सीटेट की आधिकारिक वेबसाइट ctet.nic.in पर बोर्ड द्वारा इस संबंध में एक शॉर्ट नोटिस जारी किया गया था। परीक्षा का विस्तृत नोटिफिकेशन भी जल्द ही आधिकारिक वेबसाइट पर जारी कर दिया जाएगा।
जनजातीय कार्य विभाग के स्कूलों में 11 हजार 98 प्राइमरी टीचर्स के 18 हजार 527 पदों पर एक साथ भर्ती की जाएगी। दीपावली बाद भर्ती शुरू होगी।

Leave a Reply

error: Content is protected !!